Shighrapatan Ko Jad Se Khatam Kaise Kare

Shighrapatan Ko Jad Se Khatam Kaise Kare

शीघ्रपतन को जड़ से खत्म कैसे करें

शीघ्रपतन, शीघ्रस्खलन(premature ejaculation)

इस रोग में वीर्य पतला हो जाता है। यौनक्रिया करते समय लिंग के योनि में प्रवेश से पहले ही या प्रवेश करते ही वीर्य स्खलन हो जाता है। कभी-कभी मनपसंद खूबसूरत स्त्री को मात्र देखने से ही या उसके रूप की कल्पना से ही वीर्य स्खलन हो जाता है।

शीघ्रपतन के कारण-

साधारणतः हस्तमैथुन की अधिकता या स्त्री सहवास की अधिकता या यौन संबंधी अश्लील कल्पनाओं में सदा खोये रहने से भी यह रोग हो जाता है। किन्तु कभी-कभी वीर्य की अधिक उत्पत्ति या दीर्घकाल तक स्त्री सहवास न करने से भी ऐसा हो सकता है। अन्य कारण धातु रोग तथा स्वप्नदोष के समान हैं, जिनका वर्णन में अपने अगले हिंदी आर्टिकल में करूंगा।

आप यह आर्टिकलshighrapatan.com पर पढ़ रहे हैं..

शीघ्रपतन के लक्षण तथा चिन्ह-

यौनक्रिया(सम्भोग) के समय लिंग के योनि में प्रवेश से पूर्व या प्रवेश के पश्चात् वीर्य स्खलन हो जाता है। यौवन दौर्बल्य के ऐसे रोगी को यह रोग अवश्य होता है। कभी-कभी अनियंत्रित रूप से वीर्य स्खलन होता है तथा बदनामी के डर से रोगी शर्म महसूस करता है। पीड़ित थका-थका महसूस करता है। हल्का-हल्का लेसनुमा द्रव्य लिंग मुख पर लगा रहता है, चिपचिपापन बना रहता है।

उपचार व्यवस्था-

सर्वप्रथम रोग के मूल कारण का पता लगाकर उसे दूर करें। रोगी की सामान्य दशा होने पर ही इस हिंदी आलेख में बताये जा रहे उपायों को प्रयोग में लाये। इसके अतिरिक्त सालब मिस्री, कुन्दुर, खिस्त बादा, खुलन्जान, तुख़्म ख़शख़ाश, मस्तगी, तबाशीर गुलनार प्रत्येक 5 ग्राम को कूट-छानकर चीन समान मात्रा में मिलाकर चूर्ण बना लें। 5 ग्राम गाय के दूध 250 मि.ली. के साथ दें अथवा माजून मुरव्विउल अरवाह 5 ग्राम दूध 250 मि.ली. के साथ दें। संभोग क्रिया से पूर्व माजून मुकव्वी मुमसिक 10 ग्राम खिलाकर 250 मि.ली. दूध दें।

पथ्य-अपथ्य :

हल्का तथा शीघ्र पचने वाला भोजन शीघ्रपतन से पीड़ित व्यक्ति को दें। पीड़ित को भारी दीर्घपाचक चीजों से परहेज करायें। इसी प्रकार खट्टे पदार्थों एवं लाल मिर्च बहुत कम सेवन करने को कहें। उष्ण प्रकृति के पदार्थों के सेवन एवं स्त्री सहवास में भी संयम रखें। हस्तमैथुन द्वारा अप्राकृतिक तरीके से वीर्य को नष्ट करने की आदत को छोड़ दें।

Shighrapatan Ko Jad Se Khatam Kaise Kare

मर्दानगी जगाने के लिए इसे पढ़ें- मर्दाना ताकत पायें

शीघ्रपतन को समाप्त करने के देसी नुस्खे-

Shighrapatan Ko Jad Se Khatam Kaise Kare
  1. सबसे पहले आप उड़द की धुली हुई आधी कटोरी दाल ले लें और आधा कटोरी ही पुराने चावल लेकर इनकी सादी खिचड़ी बना लें। सुबह या फिर शाम को इस खिचड़ी को देसी घी के साथ अच्छे से चबा-चबा कर खायें। इसके बाद एक गिलास मीठे दूध को गुनगुना करके पीयें। लगभग एक महीने तक यह नुस्खा प्रयोग करें।
    लेकिन इस बात का विशेष ध्यान रहे कि अपनी पाचन शक्ति के हिसाब से ही खिचड़ी थोड़ी-थोड़ी करके खायें। ताकि आप इसे आसानी से पचा सकें। जब धीरे-धीरे आपकी पचाने की शक्ति बढ़ती जाये, तो खिचड़ी की मात्रा भी बढ़ाते जायें।
  2. 5-5 ग्राम यानी समान मात्रा में अश्वगंधा पाउडर और मिश्री लेकर इन्हें अच्छे से मिला लें। इस तैयार मिश्रण को आप सुबह और शाम दोनों समय गुनगुने दूध के साथ सेवन करें। नियमित रूप से इस नुस्ख को प्रयोग करें, जल्द ही फरक नज़र आने लगेगा।
  3. अदरक और शहद भी बहुत गुणकारी होता है शीघ्रपतन की समस्या में। आप ऐसा करें कि रात को सोने से लगभग आधा घण्टा पहले अदरक के पेस्ट
    को शहद के साथ चाटें। अदरक का पेस्ट एक चम्मच के बराबर लेना है। यह देसी घरेलु नुस्खा इस्तेमाल करने से गजब की शक्ति आती है। दरअसल अदरक हमारे शरीर में गर्मी पैदा करता है। इसके अलावा ब्लड का सर्कुलेशन भी सही से बना रहता है।
  4. शतावर, अश्वगंधा और गोखरू इन तीनों औषधियों की 100-100 ग्राम मात्रा लेनी है। यह आपको पंसारी की दुकान से आसानी से उपलब्ध हो जायेंगे। इन तीनों को मिलाकर भली-भांति कूट-पीस कर एकम बारीक पाउडरनुमा चूर्ण बना लें। इस तैयार चूर्ण की एक चम्मच मात्रा को शहद के साथ मिलाकर सेवन करें। इसके बाद यदि ऊपर से एक गिलास दूध जोकि ठंडा हो, पी लें, तो और भी फायदेमंद रहेगा। इस योग को सुबह के समय खाली पेट करें और रात को भोजन के लगभग 2 घण्टे उपरान्त लें। तली हुई चीजों, खटाई का बहुत कम मात्रा में सेवन करें। अगर बिल्कुल ही न करें, तो और भी बेहतर रहेगा।
  5. भिंडी को सुखाकर चूर्ण बना लें और इस चूर्ण की 10 ग्राम मात्रा को एक गिलास गुनगुने दूध के साथ मिलाकर पीयें। यह उपाय नियमित रूप से रात को सोने से पहले करना है। आपको खुद-ब-खुद अपने अंदर गजब का फरक नजर आने लगेगा। आप खुद को अंदर से पौरूषशक्ति से भरा महसूस करने लगेंगे।
  6. पुरूषों की सेक्स समस्याओं के देसी घरेलु समाधान में कच्चा लहसुन भी बहुत ही गजब और लाभकारी भुमिका अदा करता है। पुरूष अगर रोजाना 3 से 4 कलियां लहसुन की चबाकर सेवन करें, तो हर प्रकार की यौन समस्या में आराम पा सकते हैं। इसके अतिरिक्त गाय के देसी घी में लहसुन की 2-3 कलियों को फ्राई करके भी सेवन किया जा सकता है। यह भी अच्छा उपाय है।

सेक्स समस्या से संबंधित अन्य जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें..http://chetanonline.com/

Summary
Shighrapatan Ko Jad Se Khatam Kaise Kare
Article Name
Shighrapatan Ko Jad Se Khatam Kaise Kare
Description
केवल पुरूषों के लिए हिंदी में ब्लाॅग, जानिए शीघ्रपतन क्यों होता है? Shighrapatan Ko Jad Se Khatam Kaise Kare
Author
Publisher Name
Chetan Anmol Sukh
Publisher Logo

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »